सबसे कम आबादी वाला देश | सबसे कम जनसंख्या वाला देश

सबसे कम आबादी वाला देश | सबसे कम जनसंख्या वाला देश

जानें कि न्यू विकिकोश अपडेट द्वारा निर्धारित दुनिया का सबसे कम आबादी वाला देश कौन से महाद्वीप पर स्थित है कम जनसंख्या कहाँ पाया जाता है. हमने सवाल दुनिया का ऐसा कौन सा स्थान जहां सबसे कम आबादी है? और अन्य हिंदी में जानकारी इस पेज पर उपलब्ध किए है जिसका अवलोकन नीचे करें.

Google Hindi Input Setup Download Now

सबसे कम आबादी वाला देश कौन सा है?

सबसे कम आबादी वाला देश वैटिकन सिटी है.

क्षेत्रफल की दृष्टि से विश्व का सबसे छोटा देश कौन सा है?

क्षेत्रफल की दृष्टि से विश्व का वर्तमान समय पर सबसे छोटा देश वैटिकन सिटी है.

दुनिया का सबसे कम आबादी वाला देश कौन से महाद्वीप में आता है?

दुनिया का सबसे कम आबादी वाला देश वैटिकन सिटी है और यूरोप महाद्वीप में आता है.

वैटिकन सिटी के बारे में:-

खोज Wikipedia वेटिकन सिटी राज्य, जिसे वेटिकन के नाम से भी जाना जाता है, लेटरन संधि (1929) के साथ इटली से स्वतंत्र हो गया, और यह होली सी के “पूर्ण स्वामित्व, अनन्य प्रभुत्व, और संप्रभु अधिकार और अधिकार क्षेत्र” के तहत एक अलग क्षेत्र है, स्वयं एक अंतरराष्ट्रीय कानून की संप्रभु इकाई, जो शहर के राज्य की अस्थायी, राजनयिक और आध्यात्मिक स्वतंत्रता को बनाए रखती है. वेटिकन सिटी, रोम, इटली से घिरा एक शहर-राज्य, रोमन कैथोलिक चर्च का मुख्यालय है. यह पोप का घर है और प्रतिष्ठित कला और वास्तुकला का खजाना है. इसके वेटिकन संग्रहालयों में प्राचीन रोमन मूर्तियां जैसे प्रसिद्ध “लाओकून एंड हिज संस” के साथ-साथ राफेल कमरे में पुनर्जागरण भित्तिचित्र और माइकलएंजेलो की छत के लिए प्रसिद्ध सिस्टिन चैपल शामिल हैं. 49 हेक्टेयर (121 एकड़) के क्षेत्रफल और लगभग 1000 की आबादी के साथ, यह क्षेत्रफल और जनसंख्या दोनों के हिसाब से दुनिया का सबसे छोटा राज्य है.

1871 तक, इटली कई राज्यों में विभाजित हो गया था, जिसके एक बड़े हिस्से पर पोप का शासन था. ऐसे में जब इटली एक एकीकृत देश बना तो पोप की शक्तियां भी कम हो गईं. पोप की शक्ति वेटिकन सिटी तक ही सीमित रही. इसके बाद 11 फरवरी 1929 को वेटिकन सिटी के पोप पायस इलेवन और तानाशाह मुसोलिनी के बीच एक संधि पर हस्ताक्षर किए गए. इसके तहत यह निर्णय लिया गया कि पोप इटली के किसी भी राजनीतिक निर्णय में शामिल नहीं होंगे, बदले में वेटिकन सिटी को एक राष्ट्र का दर्जा मिलेगा. यही कारण है कि आज वेटिकन सिटी एक स्वतंत्र देश है.

वैटिकन सिटी के पास है स्वयं की पासपोर्ट:- इस देश के लोगों के पास भले ही अपना एयरपोर्ट नहीं है, लेकिन उनका पासपोर्ट वेटिकन सिटी का ही है. इसके अलावा, इस देश का अपना झंडा, रेडियो स्टेशन, डाकघर और अपनी मुद्रा भी है (इटली में भी मान्य) वेटिकन सिटी में एक रेलवे स्टेशन भी है, जिसे 1930 में बनाया गया था. हालांकि, इसका इस्तेमाल ज्यादातर स्थानीय लोगों के बजाय पर्यटकों द्वारा किया जाता है. आपको बता दें कि वेटिकन सिटी में एक राजशाही परंपरा है, जिसके राजा पोप हैं. वे हर 5 साल में वेटिकन के राष्ट्रपति का चुनाव करते हैं.

वैटिकन सिटी के पास है स्वयं की सेना:- जी, हाँ सुनने में थोड़ा अजीब लग रहा होगा वैटिकन शहर के पास खुद की आर्मी है जिसे बनने के लिए यहाँ के युवाओं को कठिन ट्रेनिंग और सिलेक्शन प्रोसेस से आगे बढ़ना होता है तभी जाकर आर्मी बन पाते है.

हालांकि, यह दुनिया का एकमात्र देश है जो रात में पूरी तरह से बंद रहता है. इस देश के बारे में शुरुआत में कई भ्रांतियां थीं, जिसमें कहा गया था कि यहां के सैनिक शादी नहीं कर सकते. लेकिन ऐसा कुछ नहीं है, स्विस गार्ड को शादी करने और परिवार रखने की इजाजत है.

क्या आप Top Best People Like It Blog पढ़ना चाहते है तो नीचे दिए गए डाउनलोड के बटन पर क्लिक करें.

नीचे चर्चित लोगों की मनपसंद लेख पढ़ें:-
सबसे कम आबादी वाला देश | सबसे कम जनसंख्या वाला देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top