Friendship Day In Hindi: कब, क्यों, कैसे, इतिहास, शुरुआत

Friendship Day In Hindi: कब, क्यों, कैसे, इतिहास, शुरुआत

Friendship Day In Hindi हर वर्ष 1 अगस्त को मनाया जाता है क्योंकि इस दिन हम अपने दोस्तों को एहसास कराते हैं कि वे हमारे जीवन में कितने महत्वपूर्ण हैं. इस त्यौहार के माध्यम से अपने दोस्तों के साथ प्यार, अपनापन और अपनी भावनाओं को व्यक्त किया जाता है. वहीं इस दिन दोस्तों और दोस्ती को खास तौर पर आमंत्रित किया जाता है.

फ्रेंडशिप डे जिसे हिंदी में “फ्रेंडशिप डे” कहा जाता है. यह दिन सभी दोस्तों के लिए खास होता है. प्यार और भाईचारे के इस दिन सभी दोस्त एकजुट होकर इस दिन को मनाते हैं.

Friendship Day In Hindi

दोस्तों इस दिन का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है. क्योंकि फ्रेंडशिप डे हर साल रविवार को ही मनाया जाता है इसलिए हर उम्र के लोग अपने दोस्तों के साथ इस मस्ती भरे दिन को और खास बनाते हैं. दरअसल, सामान्य दिनों की तुलना में यह दिन दर्शाता है कि “आपके जीवन में आपके लिए क्या महत्वपूर्ण है आपके दोस्त”, आइए जानते हैं.

डीजीपी क्या होता है

फ्रेंडशिप डे क्यों मनाया जाता है

फ्रेंडशिप डे की शुरुआत साल 1958 में हुई थी. कहा जाता है कि साल 1958 के अगस्त महीने के पहले रविवार को एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई थी. अपने दोस्त की याद में मरने वाले व्यक्ति के एक दोस्त ने आत्महत्या कर ली थी. तब से हम फ्रेंडशिप डे उत्सव मना रहें है.

ऐसा रिश्ता माना जाता है कि अगर दोस्ती गहरी और सच्ची हो तो वो इमानदारी के साथ निभाई जाती है. दोस्तों की जिंदगी में ये दिन काफी खास होता है. दोस्त हर तरीके से एक दूसरे के प्रति अपना प्यार जाहिर करते दिखाई देते हैं.

फ्रेंडशिप डे कब है

दोस्ती, हर साल अगस्त के पहले रविवार को पूरी दुनिया में मनाई जाती है. इस साल साल 2021 में 1 अगस्त को फ्रेंडशिप डे हमारे भारत में पड़ा.

हैकर कैसे बने

मूवी डाउनलोड करने की वेबसाइट

जीवन में सफलता पाने के तरीके

हालांकि, आपके लिए यह जानना जरूरी है कि 30 जुलाई को संयुक्त राष्ट्र द्वारा विश्व मित्रता दिवस मनाया जाता है. लेकिन भारत समेत दुनिया के कई ऐसे देश हैं जहां अगस्त के पहले हफ्ते में फ्रेंडशिप डे मनाने का दौर होता है.

दरअसल, दुनिया भर के अलग-अलग देशों द्वारा इस दिन को मनाने का तरीका अलग है. इस समय भारत में भी पश्चिमी देशों की संस्कृति की तरह फ्रेंडशिप डे भी मनाया जा रहा है.

अब सवाल आता है कि फ्रेंडशिप डे मनाने की शुरुआत कब हुई? इसे जानने के लिए हमें इतिहास में जाना होगा.

फ्रेंडशिप डे तारीख
पुराना दोस्त मई का तीसरा सप्ताह
नए दोस्त 30 जुलाई
अंतरराष्ट्रीय मित्रता माह 19 अक्टूबर
राष्ट्रीय मित्रता दिवस 1 अगस्त (पहला रविवार)
महिला मित्रता दिवस 21 अगस्त (तीसरा रविवार)
फ्रेंडशिप डे कैसे मनाया जाता है

वैसे तो दोस्ती का हर दिन खास होता है, लेकिन आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में जो लोग समय की कमी के कारण नहीं मिल पाते हैं, वे इस दिन मिलने के लिए समय जरूर निकालते हैं और इस दिन पुरानी कड़वाहट के साथ एक मित्र. दोस्ती की शुरुआत बार-बार दोस्ती की डोरी बांधने से होती है.

सोशल मीडिया क्या है

आजकल फ्रेंडशिप डे में दोस्त कैंटीन में एक साथ पार्टी करते हैं, पुरानी यादें ताजा करते हैं, खेलते हैं और इस तरह से फ्रेंडशिप डे का ये त्योहार मनाया जाता है.

एक दोस्त दूसरे दोस्त को फ्रेंडशिप बैंड बांधता है, फ्रेंडशिप डे की टी-शर्ट गिफ्ट करता है और जो दोस्त उनसे नहीं मिल पाते हैं, वे सोशल मीडिया के जरिए अपने सभी नए और पुराने दोस्तों को इस दिन की याद में हैप्पी फ्रेंडशिप डे विश करते हैं और दोस्ती के रिश्ते को ऐसे ही निभाने को कहा जाता है.

फ्रेंडशिप डे इतिहास

मित्रता दिवस मनाने की शुरुआत पहली बार वर्ष 1958 में हुई थी जब पराग्वे में पहली बार किसी दिन को अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस के रूप में मनाया गया था, लेकिन उस वक्त फ्रेंडशिप डे मनाने का अंदाज थोड़ा अलग था.

दोस्तों को ग्रीटिंग कार्ड के जरिए फ्रेंडशिप डे की शुभकामनाएं भेजी गईं, लेकिन जैसे-जैसे इंटरनेट का प्रसार हुआ, इस दिन को दुनिया के अन्य देशों में फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाया जाने लगा.

दरअसल, पहली बार फ्रेंडशिप डे मनाने का यह विचार “डॉ. रेमन आर्टेमियो ब्रैको”. दरअसल दोस्ती के लिए आयोजित इस मुलाकात ने “विश्व मैत्री धर्मयुद्ध” को जन्म दिया.

फ्रेंडशिप डे की शुरुआत कैसे हुई

दरअसल इसके पीछे एक दिलचस्प कहानी है जिसमें साल 1935 में एक शख्स को उसकी सजा के लिए अमेरिकी सरकार ने मार डाला था. जिसके बाद मारे गए व्यक्ति का दोस्त इस घटना से काफी आहत हुआ और उसने भी आत्महत्या कर ली.

12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें

और इस तरह दोस्त की याद में किए गए इस बलिदान के कारण सरकार ने अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाने का फैसला किया. और तभी से फ्रेंडशिप डे मनाया जा रहा है और वर्तमान में सिर्फ पश्चिमी देशों में ही नहीं बल्कि एशिया के अन्य देशों में भी फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है.

फ्रेंडशिप डे क्यों होता है

दोस्ती का रिश्ता सबसे अनमोल रिश्तों में से एक है, दोस्ती की मिसाल प्राचीन काल से दी जाती है! हालांकि अब समय बदल चुका है, लेकिन आज भी हमें निजी जीवन में दोस्ती के कई उदाहरण देखने को मिलते हैं.

अन्य त्योहारों के त्योहारों की तरह “फ्रेंडशिप डे” का होता है जिसमें वे एक-दूसरे को फ्रेंडशिप डे पर गले लगाते हैं और बधाई देते हैं, और दोस्त पुराने गले और शिकायतों को मिटाकर लगातार एक-दूसरे को पहनते हैं, इसलिए दोस्ती का यह दिन सभी दोस्तों को दोस्ती के इस रिश्ते को बनाए रखने की याद दिलाता है.

फ्रेंडशिप डे सबके लिए इतना ज्यादा महत्वपूर्ण क्यों होता है

फ्रेंडशिप डे के महत्व के पीछे कई कारण हैं. आइए नजर डालते हैं उन कारणों पर:

ये दोस्त ही हैं जो हमें हमारी सबसे खराब परिस्थितियों में भी हंसाते हैं.
ये वो दोस्त होते हैं जिनके साथ हम काफी सहज हो जाते हैं और किसी भी विषय पर बात कर सकते हैं.
ये दोस्त ही हैं जो हमेशा हमारे लिए भगवान से प्रार्थना करते रहते हैं.

हिंदी के सर्वश्रेष्ठ ब्लॉग

ये दोस्त हैं जो हम पर विश्वास करते हैं जब हम खुद पर विश्वास नहीं करते हैं.
ये दोस्त ही हैं जो हमें हकीकत में जीना और चेहरे पर मुस्कान बनना सिखाते हैं.
ये दोस्त ही हैं जो विपत्ति के समय हमारे साथ खड़े होते हैं, चाहे वह आर्थिक रूप से हो या भावनात्मक रूप से.

वे तब भी हमारे साथ खड़े रहते हैं जब कोई और आसपास न हो, या तब भी जब हम गलत हों. भले ही उनका और हमारा कोई खून का रिश्ता नहीं है, लेकिन मुझे लगता है कि हमें भगवान का शुक्रगुजार होना चाहिए कि उन्होंने ऐसा अद्भुत रिश्ता बनाया. वहीं सबसे ज्यादा भाग्यशाली वो लोग होते हैं जिनके जीवन में दोस्तों की कमी नहीं होती है.

क्या आप टॉप बेस्ट लाइक इट ब्लॉग पढ़ना चाहते है तो नीचे दिए गए ज्ञानकोश के बटन पर क्लिक करें.

निर्देश: ज्ञानकोश बटन को अनलॉक करने के लिए व्हाट्सएप पर शेयर कीजिए

Leave a Comment